3 सबसे बेहतरीन Books आपको जरूर पढ़ना चाहिए : 3 Best Spiritual Books In Hindi You Must Read !

Books पढ़ना हमें बचपन से ही कितना Boring  लगता है ना! हमने अपने Life में बहुत सारे books पढ़े होंगे, जो की ज्यादातर हमारे अपने School or Collage  के Syllabus से संबंधित पढ़े होंगे। उनमें से ज्यादातर books  का हमारे जीवन में कहीं कोई role  नहीं है। जीवन के शुरुआत में हमने किताबें पढ़ी है सिर्फ अच्छे marks पाने के लिए।

पर क्या अपने कभी ऐसी books पढ़ी है जो सच में आपकी Life में एक Positive Change लेके आये?

Best Spiritual Books in Hindi
Best Spiritual Books in Hindi

कभी-कभी Life में कुछ ऐसी किताबें भी पढ़नी चाहिए जिनका वास्तविकता में हमारे जीवन से गहरा संबंध होता है। यह दुनिया बहुत बड़ी है और मैं तो कहूंगा यह दुनिया Mystical है। इस दुनिया में बहुत कुछ ऐसा है जो हमें जानना चाहिए जिनसे हम बहुत दूर है पर यह भी सच है कि यह संभव नहीं कि हम उस व्यक्ति तक पहुंच सके जिसने जीवन के कुछ रहस्य को जान लिया है।

पर किताबें एक ऐसा जरिया है जिसके माध्यम से हम उन महान लोगों के जीवन के अनुभव को पढ़कर अपनी समझ को और भी गहरा कर सकते हैं।

इसलिए हमें Life में ऐसे Books जरूर पढ़ना चाहिए जो हमे सच (Universal Truth) बताये, हमे सभी प्रकार के चिंताओं से मुक्ति दिलाने का रास्ता बताये। हम सभ भी जीवन को सुखमय तरीके से जिए।

इससे ना सिर्फ हमारी सोच प्रभावित होती है बल्कि हम दूसरे लोगों की सोच और अनुभव को जान सकते हैं और उनकी अच्छी आदतों को अपने जीवन में उतार कर अपने जीवन को भी एक सुंदर यात्रा बना सकते हैं।

आज मैं कुछ ऐसे Books के बारे में आप लोगों को बताऊंगा जो आपको अपने जीवन काल (Life Time) में एक बार जरूर पढ़ना चाहिए मेरी यात्रा भी अध्यात्मिक (Spiritual) पद पर इन्हीं किताबों को पढ़ने के बाद दृढ़ता पूर्वक आगे बढ़ी है।

ध्यान क्यों कब और कैसे करे

यह किताबें वाकई में आंखें खोल देने वाली है। Books तो आपने बहुत पढ़े होंगे पर यह कुछ ऐसे बुक है जिसे पढ़ने के बाद मैं यकीन से कह सकता हूं कि आपका जीवन के प्रति जो नजरिया है वह बिल्कुल भी बदल जाएगा। सत्य क्या है? जीवन क्या है? क्या हम जैसे जीवन जी रहे हैं वही सही तरीका है? और भी बहुत सारी गहरी बातें जिसे पढ़ने के बाद हमारे समझ का विस्तार होगा।

हमारी सोच जो एक कुएं मेंढक की तरह सीमित होती चली गई है उस सोच का विस्तार होगा हम भी उस कुएं से बाहर निकल कर विशाल समुद्र को देखने और समझने योग्य बनेंगे।

Best Spiritual Books in Hindi

अष्टावक्र गीता

बात करते हैं उस महान किताब की जिसने सबसे ज्यादा मुझे प्रभावित किया इस किताब ने वाकई में मेरे जीवन के प्रति समझ को को Practical तरीके से समझाया है। इस किताब में बहुत ही सटीक और सीधी बातें कही गई है। इस Book में जीवन की समस्या और उनका निवारण दोनों को सही और आसान शब्दों में बताया गया

Best Spiritual Books in Hindi

अष्टावक्र गीता महान ज्ञानी ऋषि अष्टावक्र और राजा जनक के बीच के संवाद का निचोड़ है।

राजा जनक को अपने ज्ञान का अहंकार हो गया था और उनके राज्य में बहुत बड़े-बड़े पंडितों का उठना बैठना था। दूसरी तरफ अष्टावक्र एक परम ज्ञानी और आध्यात्मिक व्यक्ति थे उन्होंने अपने अनुभवों से सही ज्ञान प्राप्त किया था वह सीधा सत्य बात कहते थे।

यह Book अष्टावक्र और राजा जनक के बीच जो बातें हुई और उसका राजा जनक के जीवन पर जो प्रभाव पड़ा उसके बारे में है।

WATCH VIDEO

इस Book के जरिए हम जानेंगे की अष्टावक्र का नाम अष्टावक्र कैसे पड़ा राजा जनक ने अष्टावक्र के पिता को क्यों मृत्यु दंड दे दिया था और कैसे अष्टावक्र ने बड़े होकर राजा जनक के अहंकार को तो तोडा ही साथ ही उन्हें परम ज्ञान दिया जिससे वह आत्म साक्षात्कार को प्राप्त हुए और अष्टावक्र के चरणों पर आकर गिर पड़े।

इन दोनों के बीच जो संवाद हुआ है वाकई में आंखें खोल देने वाले संवाद है। अष्टावक्र ने बहुत ही सुंदर और बहुत ही सरल भाषा में सब कुछ बताया है यह किताब आध्यात्मिक (Spiritual) तो है ही साथ ही बहुत ही Inspirational बुक है। आध्यात्मिक जीवन पर आगे बढ़ने के लिए यह बुक हमें अपने जीवन काल में एक बार जरूर पढ़ना चाहिए

ऑटोबायोग्राफी आफ ए योगी : श्री परमहंस योगानंद जी

दूसरी बुक जिसने मुझे बहुत प्रभावित किया actually यह Book मुझे मेरी Sister ने दिया था।

Best Spiritual Books in Hindi

श्री परमहंस योगानंद जी बहुत महान विद्वान और ज्ञानी थे। वो बहुत साधारण परिवार से थे। बचपन से हे उनका जीवन साधु संतो के साथ गुजरा था। उन्होंने योग के माध्यम से बहुत कुछ प्राप्त किया था।

इस Book में परमहंस योगानंद जी ने अपने जीवन के अनुभवों को स्वयं लिखा है। उन्हें बचपन की अपनी सारी बातें याद थी बचपन में उनके साथ क्या-क्या घटनाये घटित हुई? कैसे उन्होंने क्रिया-योग को अपनाया, उनके जीवन में क्रिया-योग का आना और उनका अपने गुरु से मिलना और कैसे योग के माध्यम से वो एक ही समय पर दो जगह पर उपस्थित रहते थे और भी बहुत सारी Inspirational और रोमांचित कर देने वाली बातें इस Book में है।

यह बुक पढ़ने के बाद वाकई में आपको लगेगा कि जिंदगी वाकई में कितना कुछ जानना बाकि है और हम वाकई में कितनी बोरिंग लाइफ जीते हैं। जीवन में हम क्या-क्या कर सकते हैं और हम अपने आप को हमेशा कम आंकते हैं।

आपको अपनी Life Time में एक बार श्री परमहंस योगानंद जी की Autobiography जरूर पढ़ना चाहिए यह हिंदी और English दोनों में अपने Available है।

इनर इंजीनियरिंग

तीसरी बुक जिसके बारे में मैं आपको बताने वाला हूं यह बुक मैंने 2019 में पढ़ा था। यह Book श्री सदगुरु जी ने लिखी है।

Best Spiritual Books in Hindi

यह बुक श्री सद्गुरु जी द्वारा लिखित उनके जीवन के ऊपर आधारित है। आज के Modern Generation के लिए सदगुरू जी एक Inspiration है और उनके द्वारा लिखित Inner Engineering उनकी जीवन की पूरी यात्रा को दर्शाता है।

श्री सदगुरु जी एक साधारण घर से belong करते थे और एक ोयापारी (Businessman) थे। फिर ऐसा क्या हुआ की वो आध्यात्मिक हो गए ? उनके जीवन में ऐसी कुछ घटनाओ का इस Book में वर्णन है, जिसके बाद उनका जीवन ही परिवर्तित हो गया।

इस Book  की एक खास बात यह भी है की आखिरी के कुछ Chapters  में उन्होंने ने ध्यान (Meditation) करने की उस प्रक्रिया को बताया है जिसके माध्यम से उन्हें ज्ञान प्राप्त हुआ था। ये प्रक्रिया (process) और कुछ नई बस अपने Body को सही ढंग से और एक System में लाने लाने के बारे में है जो की सरल तो है पैर यह निरंतर अभ्यास से ही संभव है (It requires consistency). 

यह Book भी हिंदी और English दोनों भाषा में Available है। इस Book को पढ़कर भी वाकई में आपको किस बात पर यकीन हो जाएगा एक साधारण व्यक्ति भी अध्यात्मिक ऊंचाइयों तक पहुंच कर उसका अनुभव कर सकता है।

आपको इस बात पर भी यकीन हो जाएगा की आध्यात्मिक अनुभव को प्राप्त करने का एक पूरा प्रोसेस होता है जिस पर चलकर उसको फॉलो कर कर कोई भी व्यक्ति जीवन के रहस्य को अपने अनुभव के माध्यम से जान सकता है।

और भी बहुत कुछ है इस किताब में इसलिए आपको यह बुक भी जरूर पढ़नी चाहिए।

यहाँ रुकिए! Free में ध्यान लगाना सीखिए।

Before wrapping up…

हम सभी को जीवन में कभी न कभी स्वयं के अंदर झांकने की बहुत जरूरत है। हर व्यक्ति को अपने भीतर स्वयं की ओर यात्रा जरूर करनी चाहिए इस यात्रा में जो हमारा माध्यम बनता है उसे ही हम ध्यान (Meditation) कहते हैं।

ध्यान ही वह माध्यम है जिसके जरिए हम स्वयं की ओर बढ़ते हैं ध्यान ही वह प्रक्रिया है जो हमें हम से मिलाता है ध्यान के जरिए ही हम अपने अंदर के विकारों को समस्याओं को दुखों को गहराई से समझ कर उन्हें जड़ से उखाड़ सकते हैं और परमानंद परमसुख की उस स्थिति तक पहुंचते हैं

जहां पर पहुंचना हर व्यक्ति के लिए संभव है पर अज्ञानता के कारण हम सब उसे भूले हुए हैं हमारे जीवन का परम और चरम लक्ष्य आत्मसाक्षात्कार और मोक्ष की प्राप्ति ही होनी चाहिए यह सारे बुक आपको बहुत Inspired करेंगे और इस पथ पर आगे बढ़ने के लिए आप को Motivate भी करेंगे।

यह सारे Books मैंने पढ़े हैं, तीनो Books  बहुत हे बढ़िया है। आपको जरूर पढ़ना चाहिए भले ही आप आध्यात्मिक पथ पर चले या न चले पर इतना तो जरूर है कि Books को पढ़ने के बाद आपकी सोच में एक गहराई आएगी और आप अपने जीवन को बहुत सारी गलत आदतों से बचा सकते हैं।

मेरा उद्देश्य इस आर्टिकल को लिखने का बस इतना ही है कि जो भी लोग मेरे साथ इस आध्यात्मिक पथ पर चल रहे हैं या चलेंगे उनको जितना भी मैं Help कर सकता हूं इस Article के जरिए मैं वही करना चाहता हूं।

धन्यवाद्।

मंगल हो!

SHARE