Meditation for Sleep in Hindi : अच्छी और गहरी नींद के लिए 15 minutes ध्यान करे

अच्छी नींद लेना बेहद जरूरी है

आजकल की इस भागमभाग (fast going life) वाली दुनिया में हम चारों तरफ से चिंता (tension) ,डर (fear) और बीमारियों (Diseases) से घिरे हैं। इस अनियंत्रित दिनचर्या के कारण ही हमने अनचाहे मानसिक और शारीरिक बीमारियों को निमंत्रण दे दिया है।

नींद ना लगना इन्हीं बीमारियों में से आजकल की सबसे common समस्या उभर कर आ रही है। पर्याप्त नींद ना आना आज के समय की बहुत बड़ी समस्या है। आज की युवा पीढ़ी को अच्छी नींद के लिए दवाइयों का सहारा लेना पड़ रहा है। इन दवाइयों के भी अपने साइड इफेक्ट होते हैं, मतलब की एक और नई बीमारी तैयार। (Meditation for Sleep)

Meditation for sleep
Meditation for sleep
ध्यान क्यों कब और कैसे करे? जानिए सबकुछ step by step

पर क्या कभी हमने सोचा है की नींद की समस्या हमें क्यों है? इस समस्या के लिए हमें समय निकाल कर सोचना चाहिए। हम देखेंगे की unhealthy diet और unbalance lifestyle के कारण ही हम अच्छी नींद से वंचित रह जाते हैं। बेड पर लेटे लेटे हम करवटें बदलते रहते हैं और नींद में जाने का इंतज़ार करते है।

कुछ देर के लिए नींद आ भी जाती है पर क्या वह quality sleeping है? हमें खुद अपने बारे में जांच करनी चाहिए। जिस दिन हम पर्याप्त नींद लेते हैं और गहरी नींद में सोते हैं उस दिन हम कितना तरोताजा और चिंता से मुक्त महसूस करते हैं energetic महसूस करते हैं।

और जिस दिन हम नींद के लिए संघर्ष करते हैं रात भर जागते हैं और फिर सुबह काम पर चले जाते हैं उस दिन पूरे दिन हम चिड़चिड़ापन महसूस करते हैं, energy less महसूस करते हैं

नींद का गहरा असर हमारे काम पर पड़ता है,एक अच्छी नींद से हम स्वस्थ महसूस करते हैं। (Meditation for Sleep)

घर पर ध्यान (meditation) करने का दो सबसे सरल तरीका !
अच्छी और गहरी नींद में सोने से क्या-क्या लाभ होता है ?

Memory Improve– नींद कम आने के कारण हम धीरे-धीरे भूलने की बीमारी से ग्रसित हो जाते हैं। अच्छी नींद लेने से मन स्वस्थ रहता है और यादाश्त भी मजबूत होती जाती हैं। जिससे हमें अपने दैनिक जीवन में उन्नति और Professional life में भी सफलता मिलती है।

Tension Relief– अनिद्रा के कारण हमारा मन चिंताओं से घिरा रहता है। अनचाहे विचार और भविष्य की कल्पनाएं हमें प्रभावित करती रहती हैं। पर अगर व्यक्ति पर्याप्त नींद ले (6 से 8 घंटे) तो मन हमेसा प्रसन्न रहता है विचार सकारात्मक आते हैं, दुनिया खूबसूरत और अच्छी लगने लगती है और चिंता रहते हुए भी चिंता महसूस नहीं होती है।

Glowing Skin– नींद ना आने के कारण व्यक्ति जल्दी बूढ़े दिखने लगता है स्किन भी ढीली पड़ जाती है आंखों के नीचे कालापन भी आ जाता है। जबकि पर्याप्त नींद लेने वाले व्यक्ति की स्किन fresh रहती है। व्यक्ति स्वस्थ और जवान दिखता है।

Increase Life- पर्याप्त नींद लेने वाले व्यक्ति का जीवन (life) हमेशा अनिद्रा से ग्रसित व्यक्ति की तुलना में कहीं अधिक होता है। व्यक्ति अधिक समय तक युवा और स्वस्थ बना रहता है। जबकि ना सोने के कारण व्यक्ति रोग ग्रसित भी हो जाता है और जीवन की आयु भी कम रहती है। (Meditation for Sleep)

गहरी और अच्छी नींद हम क्यों नहीं ले पाते ?

#ज्यादा सोचनाOver Thinking

पर्याप्त नींद ना आने के बहुत सारे कारण होते हैं पर कभी-कभी जरूरत से ज्यादा सोचना भी नींद ना आने का कारण बन जाता है। व्यक्ति या तो भूतकाल की किसी घटना के बारे में या भविष्य की कल्पनाओं के बारे में हमेशा सोचता रहता है।

उसी में उलझ कर अपने जीवन को नष्ट कर देता है जबकि वह जानता है कि जीवन अपने हिसाब से चलता है हमारे चाहने न चाहने से कुछ भी नहीं होता है फिर भी व्यक्ति वर्तमान में नहीं जीता है और अपने जीवन को व्यर्थ ही नष्ट कर देता है।

हमेशा विचारों से घिरे रहने के कारण जब वह रात्रि में सोने के लिए जाता है तो उसे यह समझ नहीं आता कि इन विचारों को रोका कैसे जाए? क्योंकि नींद तभी आती है जब मन में कोई भी विचार ना चल रहा हो। इसलिए ज्यादा सोचना भी अनिद्रा का कारण बन जाता है।

हमें सोने से आधे घंटे पहले अपने मोबाइल फोन को स्विच ऑफ कर देना चाहिए हो सके तो कोई किताब पढ़ने का प्रयास करना चाहिए कुछ अच्छे विचारों के बात जब नींद आती है तब अगले दिन की सुबह हम अधिक ऊर्जावान और सकारात्मक महसूस करते हैं। (Meditation for Sleep)

#ज्यादा कामOverwork

जरूरत से ज्यादा काम हमारे शरीर को बहुत थका देता है हम मानसिक रूप से नहीं बल्कि शारीरिक रूप से भी थक जाते हैं। और कभी-कभी शारीरिक रूप से थकने के कारण भी हमें नींद नहीं आती है। शरीर में दर्द भी रहता है इसलिए हमें अपनी क्षमता के अनुरूप ही कार्य करना चाहिए।

meditation for sleep
meditation for sleep

हर व्यक्ति की कार्य क्षमता अलग-अलग होती है हमें अपनी क्षमता को पहचान कर ही कार्य करना चाहिए जरूरत से ज्यादा धन ग्रहण करने के चक्कर में हम अपना मूल्यवान समय और मूल्यवान शरीर दोनों ही बर्बाद कर देते हैं। समय और शरीर इन दोनों का कोई मूल्य नहीं है।

इसलिए हमें अपने लिए समय निकालना चाहिए और अपने शरीर के लिए exercise या योग जरूर करना चाहिए इससे हमें शारीरिक और मानसिक लाभ तो होगा ही साथ ही हमें अच्छी नींद भी आएगी। (Meditation for Sleep)

#शरीर की स्थिति-Sleeping Position

कभी-कभी गलत तरीके से सोने के कारण भी हमें नींद नहीं आती है। व्यक्ति को सोने के लिए हमेशा पतले तकिए का या बिना तकिए का सोने का अभ्यास करना चाहिए। हमें मुलायम और foam वाले वाले गद्दे पर सोने के बजाय ठोस गद्दे पर या जमीन पर सोने का प्रयत्न करना चाहिए।

अच्छी नींद पाने के लिए हमें हमेशा सीधा सोना चाहिए। मतलब व्यक्ति को हमेशा सीधा सोना चाहिए दोनों हाथों को एकदम सीधा पैरों की तरफ रखकर सोना चाहिए यही सोने का सही तरीका है इससे नींद जल्दी और अच्छी आती है।

Free में ध्यान (meditation) कहा सीखे

रात्रि में ध्यान के अभ्यास से गहरी नींद प्राप्त करें: Meditation for Sleep

हमने अब तक जाना कि नींद ना आने के कारण हम किन-किन बीमारियों से घिर जाते हैं, जीवन में क्या-क्या दुष्प्रभाव देखते हैं। हमने यह भी जाना की गहरी नींद आने से हमें क्या क्या लाभ होते हैं पर अब हम जानेंगे गहरी और अच्छी नींद प्राप्त कैसे करें जिससे हमारा मन और शरीर दोनों सकारात्मक और उर्जाओ से भरा रहे।

गहरी और अच्छी नींद पाने के लिए हमें कुछ चीजों को अपने जीवन में उतारना होगा, जैसे हमें देर रात तक जागने की आदत छोड़नी होगी हमें एक समय fix करना होगा होगा उसके बाद हमें बाहरी दुनिया जैसे मोबाइल फोन और टीवी से disconnect होना होगा।

हमें अपने मन को चिंताओं से और विचारों से मुक्त करने के लिए 15 मिनट के लिए ध्यान करना चाहिए। क्योंकि जब तक मन में कोई भी चिंता है या विचार चलता रहेगा हमें नींद नहीं आएगी और ध्यान के माध्यम से हम विचारो को कम और मन को शांत करके गहरी और अच्छी नींद प्राप्त कर सकते है। (Meditation for Sleep) dhyan

#आइए जानते हैं किस प्रकार ध्यान करें

ध्यान कैसे करना चाहिए यह हमने अपने पिछले आर्टिकल में डिटेल्स में स्टेप बाय स्टेप बताया है आप वह आर्टिकल यहां पढ़ सकते हैं।आपको रात्रि में अपने कमरे का लाइट ऑफ करके 15 मिनट के लिए ध्यान करना चाहिए

Meditation for sleep
Meditation for sleep

#आज हम एक और तरीका discuss करेंगे जिससे आप लेटे-लेटे भी ध्यान कर सकते हैं

आप बिल्कुल सीधा लेट जाएं हाथ और पैरों को बिल्कुल सीधा छोड़ दे हो सके तो पतले तकिए का या बिना तकिए का लेटने का प्रयास करें। अब आप अपना पूरा ध्यान विचारों पर से हटाकर अपने प्रकृतिक सांसो पर लगाएं।

अपने सांसों को सिर्फ और सिर्फ समता भाव (equanimity) से देखें। वह किस नासिका से आ रहा है और किस नासिका से जा रहा है,बिना उसने कोई भी छेड़छाड़ किए।

अपने प्राकृतिक सांसों को सिर्फ देखना है, अपने सांसों पर नियंत्रण नहीं करना है। जिस प्रकार हम theater में बैठकर कोई movie देखते हैं बिना मूवी में कोई छेड़छाड़ किये। उसी प्रकार हमें बस समता भाव से यह देखना है कि हमारा साँस किस नासिका से गुजर रहा है।

यह बहुत ही बारीकी का काम है। पर धीरे-धीरे आप इस कार्य में सफल होने लगेंगे। मन विचार मुक्त होने लगेगा आप शांति और सकारात्मक महसूस करेंगे और धीरे-धीरे आप गहरी निद्रा में चले जाएंगे इस प्रकार के अभ्यास से आप हमेशा अच्छी नींद प्राप्त करने लगेंगे।

आप सुबह उठेंगे तो आपका मन तनावपूर्ण विचारों की तरफ ना जाकर आपकी सांसों की तरफ ही जाएगा जिससे आप सुबह-सुबह सकारात्मक ऊर्जा महसूस करेंगे मन प्रसन्न और आध्यात्मिक बना रहेगा और डिटेल में ध्यान सीखने के लिए यह आर्टिकल जरूर पढ़ें

इस प्रकार निरंतर अभ्यास करते रहने से आप मानसिक और शारीरिक लाभ दोनों लाभ प्राप्त करने लगेंगे और दवाइयों से भी आजीवन छुटकारा भी मिल जाएगा यह सबसे कारगर और प्राकृतिक उपचार है। (Meditation for Sleep)

ध्यान से ज्ञान तक!

मंगल हो!

ध्यान (meditation) कैसे शुरू करे ?

SHARE